केंद्रीय कर्मियों का मंहगाई भत्ता रोकना अमानवीय कार्य….राहुल गाँधी

 

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गाँधी ने केंद्रीय कर्मचारियों के मंहगाई भत्ता रोकने को सरकार का अमानवीय कार्य बताया..एक ट्वीट में उन्होंने लिखा है कि..

लाखों करोड़ की बुलेट ट्रेन परियोजना और केंद्रीय विस्टा सौंदर्यीकरण परियोजना को निलंबित करने की बजाय कोरोना से जूझ कर जनता की सेवा कर रहे केंद्रीय कर्मचारियों, पेंशन भोगियों और देश के जवानों का महंगाई भत्ता(DA)काटना सरकार का असंवेदनशील तथा अमानवीय निर्णय है।

ज्ञातव्य है कि सरकार ने कोरोना आपदा के चलते सभी केंद्रीय कर्मचारियों के मंहगाई भत्ते बढ़ाने पर जनवरी 2020 से  2021 तक रोक लगाने का फैसला किया है.इससे लगभग सवा लाख केंद्रीय कर्मचारी और पेंशन भोगी प्रभावित होंगे मगर सरकार को 37530 करोड़ रुपये की बचत होगी. जिसका उपयोग कोरोना आपदा से निपटने में किया जाएगा

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *