उत्तराखंड कांग्रेस की चुनाव अभियान समिति के अध्यक्ष हरीश रावत ही रहेंगे चुनाव अभियान के नेता।। राहुल गांधी का अजब गजब आदेश

सुपर 7
कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी के पुत्र और पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने आज उत्तराखंड कांग्रेस के नेताओं के साथ हुयी  बैठक के बाद उन्होंने स्पष्ट निर्णय लेने के स्थान पर अजीब सी घोषणा की कि हरीश रावत चुनाव अभियान समिति के अध्यक्ष हैं इसलिए वही पार्टी के चुनाव अभियान का नेतृत्व करेंगे। पार्टी के भीतर जारी अस्तित्व की लड़ाई में निर्णय लेने में पार्टी नेतृत्व फिर एक बार असहाय और मूक दर्शक ही बना रहा। उत्तराखंड विधानसभा चुनाव में बहुत कम समय बचा  है और सबकी निगाहें  वर्तमान घटनाक्रम के अंजाम पर लगी हैं कि  क्या हरीश रावत  कोई बड़ा निर्णय ले पाएंगे?  पिछले दिनों उनके एक ट्वीट में उन्होंने साफ संकेत दिया था कि वो अपने बेटे और  बेटी के राजनीतिक भविष्य के लिए चिंतित हैं। राजनीतिक गलियारों के साथ आम जनता भी आज सवाल पूछ रही है कि उत्तराखंडियत का मसला  कहीं सिर्फ अपने परिवार की चिंता तक न हो। चिंता के द्वार आपको असमय कमजोर कर देते हैं,ये सोचान भी जरूरी है.गेंद अब हरीश  रावत  के पाले में है। आत्मघाती गोल करेंगे या फिर एक तेज फॉरवर्ड खिलाड़ी की तरह विपक्ष पर गोल ठोकेंगे ये भविष्य की गर्त में है.फिलहाल पार्टी प्रदेश कार्यालय में हुयी आज की आपसी मारपीट ने तो पार्टी को बड़ा नुकसान पँहुचा दिया है या फिर लगभग हासिए  पर खड़ा कर दिया लगता है। दो दिनों पहले लड़ाई में बराबरी का दावा करने वाली पार्टी आज सचमुच में मुश्किल में पड़ गई दिख रही है.
2. दूसरी तरफ प्रदेश सरकार ने बेहद शांति के साथ काम करते हुए  आज तीन आई पी एस अधिकारियों संजय गुँजयाल,अमित सिन्हा और मुरुगेशन को ए डी  जी  और  केवल खुराना तथा बिमला गुँजयाल को आई जी पद पर  निवेदिता कुकरेती, बरिंदर जीत सिंह और पी रेणुका देवी को  डी आई जी पद पर प्रमोट कर दिया।
3. प्रदेश सरकार के मंत्री सुबोध उनियाल ने हरीश रावत के मसले पर आज कहा कि हरीश रावत बिल्ली की तरह हैं जो अपने घर परिवार पर सिर्फ अपना ही  राज चाहती है। 
4. हरीश रावत के समर्थ में उत्तरप्रदेश के कांग्रेसी नेता प्रमोद कृष्णम ने एक बयान में कहा कि कोई भी उनके हाथ पाँव नहीं बांध सकता। 
5. चंपावत में एक विद्यालय में शर्मनाक घटना:-दलित महिला के हाथ से बनाए खाने को खाने से किया छात्रों ने इनकार। दलितों के उत्थान करने के बहाने में कब तक लगी रहेगी सरकारें। इस समस्या से  लोगों को अभी तक जागरूक नहीं कर सकी सरकारें।
6. मसूरी विन्टर कार्निवाल स्थगित।ओमिक्रोन के संक्रमण पसारने की चेतावनी के बीच निर्णय। नए साल के जश्न में खलल। व्यापारियों, छोटेकारोबारी और मजदूरों के बीच बेचैनी।
7. उत्तराखंड में राजनीतिक ड्रामा चालू है। कैबिनेट मंत्री हरक सिंह की नाराजगी और मंत्री पद छोड़ने की खबर।      
      
Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *