आज की ताजा 7 खबर

 

    1. सुप्रीम कोर्ट ने पद्मनाभस्वामी मंदिर की अथाह और बेहिसाब संपत्ति पर राज्य सरकार के अधिकार के केरल हाई कोर्ट के 2011 के फैसले को त्रावणकोर शाही परिवार द्वारा सुप्रीम कोर्ट में दी गयी चुनौती पर फैसला सुनाते हुए केरल हाई कोर्ट के आदेश को रद्द कर दिया . कोर्ट ने निर्णय शाही परिवार के पक्ष में देते हुए कहा कि इस मंदिर के प्रशासन का अधिकार शाही परिवार को है . फिलहाल अंतरिम व्यवस्था के तौर पर जिला जज की अध्यक्षता में एक पांच सदस्यीय प्रशासनिक कमेटी के साथ तीन सदस्यीय एडवाइजरी कमेटी का भी गठन करने के निर्देश दिए गए . यही कमेटी अंतरिम तौर पर मंदिर प्रशासन की व्यवस्था करेगी और तय करेगी कि मंदिर के छठे दरवाजे को खोला जाय या नहीं. इसी दरवाजे के बारे में लोगों में गहरी मान्यता है कि यदि यह दरवाजा खुला तो पूरी सृष्टि जलमग्न होकर समाप्त हो जाएगी. नौ साल पहले केरल हाई कोर्ट के फैसले के बाद इस मंदिर के पांच दरवाजे खोले गए थे जिनमें एक लाख करोड़ से ऊपर की सम्पदा जमा थी. काफी प्रयासों के बाद भी छटा दरवाजा खोला नहीं जा सका था.बाद में सुप्रीम कोर्ट ने इस दरवाजे को खोलने पर रोक लगा दी थी. लोगों में ये भी चर्चा है कि शायद मान्यता के विपरीत काम करने पर और  छठे दरवाजे को खोलने के प्रयासों के कारण ही कुछ दिन बाद इस केस के सूत्र सुंदरराजन की हार्ट अटैक से मृत्यु हो गयी थी .ज्ञातव्य है कि एक आई पी एस अधिकारी टी पी सुंदरराजन ने में केरल हाई कोर्ट में एक याचिका दायर कर शाही परिवार के अधिकार को चुनौती दी थी .जिस पर केरल हाई कोर्ट ने  मंदिर का प्रशासनिक अधिकार राज्य सरकार को देने का निर्णय सुनाया था.

2. नेपाल के प्रधानमंत्री केपी शर्मा ओली अपनी पार्टी के भीतर अपने विरोध और उनके त्यागपत्र की मांग उठने के कारण लगातार भारत विरोधी बयानों से अपनी कुर्सी बचाने का प्रयास कर रहे हैं. कल एक कार्यक्रम में उन्होंने भारत पर आरोप मढ़ दिया कि भारत ने नेपाल का सांस्कृतिक शोषण किया है. उन्होंने एक विवादस्पद बयान दिया कि असली अयोद्ध्या नेपाल बीरगंज के पास है और सीता का विवाह जिन राम से हुआ था वो  नेपाली थे.
उधर प्रधानमंत्री ओली के इस विवादस्पद बयान पर नेपाल में राष्ट्रीय प्रजातंत्र पार्टी के नेता कमल थापा ने कड़ी आपत्ति जताई है.

3. कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गाँधी का सरकार पर ट्विटर के माध्यम से हमला लगातार जारी है. भारत चीन बॉर्डर पर जारी गतिरोध पर राहुल ने परोक्ष रूप में प्रधानमंत्री पर आरोप लगाया है और लिखा है कि “वह लगातार सो रहे हैं और देश इसकी कीमत चुका रहा है “दूसरी ओर भारत और चीन के लेफ्टिनेंट जनरल स्तर पर चल रही बातचीत का चौथा दौर आज होगा जिसमें वर्त्तमान परिस्थितियों और आगे की कार्यवाही पर               चर्चा होगी

4. राजस्थान में कांग्रेस के सी एम् अशोक गहलोत और प्रदेश अध्यक्ष सचिन पायलट के बीच जारी सत्ता का खेल अभी समाप्त होता नहीं दिख रहा है. कल प्रियंका गांधी की सक्रियता से संकट बस कुछ समय और आगे खिसक गया मगर ख़त्म नहीं हो पाया है . बी जे पी इस खेल में फिलहाल बाहर से तमाशबीन की तरह खड़ी दिखती है मगर एक चतुर शिकारी की तरह मौके का फायदा उठाने के फ़िराक में है .बी जे पी के निशाने पर         अशोक गहलोत और कांग्रेस का शीर्ष नेतृत्व है . प्रदेश भाजपा नेताओ की सहानुभूति सचिन पायलट के साथ होने सम्बन्धी वक्तव्य जारी किये जा रहे हैं. दूसरी ओर अशोक गहलोत सचिन पर कार्यवाही करने की तैयारी में हैं.कल सुबह प्रदेश कार्यालय से सचिन के पोस्टर हटाने और कुछ ही घंटों बाद उन्हें फिर से लगाने के अंदाज से तो यही लगता है कि गहलोत अपने सबसे बड़े प्रतिद्वंदी को ठिकाने लगाने की पूरी तैयारी कर चुके         हैं.

5. भारत सरकार के स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय द्वारा जारी सूचना के अनुसार देश में कल तक कोरोना वायरस के  301609 मरीज एक्टिव थे जबकि 553470ठीक होकर घर वापस लौट चुके हैं देह में अभी तक 23174 मौतें दर्ज की गयी हैं.  पिछले दिन देश में 219103टेस्ट किये गए . वहीं उत्तराखंड में कुल 3608  मामलों में  671एक्टिव केस हैं 2856ठीक होकर घर जा चुके हैं तथा 49मौतें दर्ज हुयी हैं .

6.  ईरान बॉर्डर पार करके अफ़ग़ानिस्तान के ज़ारांज तक जाने वाले 628 किलोमीटर लंबे चाबहार रेल प्रोजेक्ट को भारत की ओर फंड मिलने में देरी की वजह से ईरान ने अब खुद ही काम शुरू कर दिया है. एक तरह से भारत को अब इस प्रोजेक्ट से बाहर कर दिया गया है.
ईरान ने ये क़दम ऐसे समय उठाया है जब भारत और चीन तथा अमेरिका और ईरान के बीच तनाव काफी बढ़ा हुआ है और भारत एवं पश्चिमी देश विशेषकर अमेरिका चीन के खिलाफ एक दूसरे के काफी निकट आ गए हैं और हाल ही में चीन और ईरान के बीच भी चार सौ अरब डॉलर के रणनीतिक निवेश को लेकर समझौता हुआ है.

7.  मसूरी में सडकों की हालत बेहद खराब, दस साल से ज्यादा समय से सीवर लाइन का काम अधूरा .मोती लाल नेहरू मार्ग और हरनाम सिंह रोड पर सीवर लाइन के लिए बनाये गए चैम्बर कभी भी बन सकते है दुर्घटना का कारण .

 

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *